Breaking News
Home / धार्मिक

धार्मिक

संदलपुर में संत शिरोमणि सिंगाजी बाबा चरण पादुका स्थल पर 15 दिवसीय मेले का शुभारम्भ

खातेगाँव (संदीपसिंह तोमर) । संदलपुर स्थित संत शिरोमणी सिंगाजी बाबा के चरण पादुका स्थल पर माघी पूर्णिमा के पावन अवसर पर दूर दराज के क्षेत्रो से पांव पैदल चलकर लेकर आए निशानों (ध्वजा) को वैदिक विधि विधान से पूजन अर्चन अभिषेक कर गुरुगादी पर आसीन महंत प्रांजल दुबे के सानिध्य में …

Read More »

चल समारोह एवं विशाल भंडारा संपन्न 

देवास। बावडियां पटेल नगर मे संत शिरोमणि रविदास जी महाराज सेवा समिति द्वारा 19 फरवरी को संत शिरोमणि गुरू रविदासजी महाराज की जंयती पर विशाल चल समारोह निकाला गया एवं भंडारा आयोजित किया गया। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में भाजपा अजा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सुरज केरो, भाजपा अजा मोर्चा …

Read More »

बसंत पंचमी पर बलाई समाज ने किया सामुहिक विवाह

देवास । प्रान्तीय बलाई समाज विकास मंच के जिला अध्यक्ष सहज सरकार ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर समाज द्वारा 11 जोड़ो का निःशुल्क सर्वजातीय सामूहिक विवाह का आयोजन ग्राम धरमपुरी में सम्पन्न हुआ। सम्मेलन में मुख्यअतिथि इंदौर पार्षद, …

Read More »

रामजी का चरित्र हमें मानव जीवन जीने की कला सिखाता है और श्रीमद् भागवत कथा हमें मृत्यु को कैसे समरना सिखाती है ….पंडित शास्त्री नंद घर आनंद भयो जमकर नृत्य किया श्रद्धालुओं ने

कथा में आज भगवान को लगेगा छप्पन भोग. कान्हा ग्वाल बालों के साथ छोड़ेंगे मटकी और खाएंगे माखन खातेगांव (संदीपसिंह तोमर)। की पावन धरा पर चल रही श्रीमद्भागवत कथा के पंचम दिवस की पावन बेला में श्री अवधधाम से पधारे हुए श्री सुरेंद्रनाथ महाराज ने लीला पुरुषोत्तम भगवान के जन्म …

Read More »

सच्चा भक्त भरे हाथ लेकर भक्त प्रभु के पास जाता है और भरा हृदय लेकर प्रभु के पास से आता है समर्पण की वस्तु चाहे तुच्छ हो लेकिन भाव उच्च हो… जैनाचार्य श्री रत्नसुंदर सुरिश्वरजी

देवास। टेक्स अधिकारी हमसे कुछ लेने आता है, चोर लूटने आता है, भिखारी मांगने आता है, मेहमान मिलने आता है, शिष्य गुरू से कुछ पाने आता है लेकिन सच्चा भक्त तो भगवान को कुछ देने ही आता है। हम भगवान के पास क्या करने जाते हैं। शबरी ने राम को …

Read More »

अच्छा मित्र और अच्छा चित्र ही अच्छा चरित्र निर्माण कर सकता है मोबाईल का कैसे नहीं कैसा उपयोग करना ही मोबाईल प्रदत्त विकृति मिटा सकता है- जैनाचार्य श्री रत्नसुंदरसुरी

देवास। यदि हमारी जिद है कि हम सर्वप्रिय, लोकप्रिय एवं प्रभु प्रिय बने साथ ही पर्याप्त संपत्ति, जबरदस्त बुद्धि और हर क्षेत्र में सफलता मिले, इसके लिए हमें 6 उपाय करने होंगे। ये हैं अच्छे मित्र और अच्छा चित्र खोजना होगा। प्रेम और परोपकार को पाना होगा, पवित्रता एवं प्रसन्नता …

Read More »

प्राप्ति के बाद तृप्ति नहीं तो मुक्ति असंभव है -जैनाचार्य रत्नसुंदरसुरी 

देवास। वस्तु की प्राईज नहीं वेल्यू महत्वपूर्ण है। शरीर के अंगों की प्राईज निकालें तो कुछ रूपयों की हो सकती है लेकिन इसी शरीर का सदुपयोग हमें भगवान बना सकता है तथा दुरूपयोग शैतान। बीते कल, आज और कल के लिए हमारे पास 6 चीजें बची हुई है। बीते कल …

Read More »

माया के आवरण के कारण जीव को ब्रह्म के दर्शन नहीं हो पाते… राधेगुरू

देवास। जीव और ब्रह्म के मध्य जब तक माया का आवरण रहेगा तब तक प्रभु के दर्शन नहीं होंगे। संतों को माया विचलित नहीं कर सकती है।  सेठ मिश्रीलाल नगर में चल रही श्रीमद भागवत महापुराण के चतुर्थ दिवस पर पूज्य महाराज श्री राधेगुरू जी ने व्यक्त करते हुए भक्त …

Read More »

भागवत कथा समापन पर हुआ विशाल भंडारा 

देवास। जय बाबा बाल हनुमान मंदिर समिति शिव शक्ति नगर में 8 दिवसीय भागवत कथा के समापन अवसर पर विशाल भंडारा आयोजित किया गया। आठ दिनों तक भागवताचार्य राधेश्याम गुरूजी ने श्रीमद भागवत का रसास्वादन कराया। उक्त आयोजन साध्वी मीरा दीदी के सानिध्य में संपन्न हुआ। कार्यक्रम में महाराज विक्रमसिंह …

Read More »

दुनिया कहती है टीट फार टेट लेकिन महावीर कहते हैं फारगेट देट  बैर एवं कटु स्मृति की गाँठ नष्ट कर देती है मन के प्रेम, प्रसन्नता, शांति को… श्री रत्नसुंदर सुरी

देवास। क्रोध, बैर, विभाजन या विरोध की मन में कटु स्मृति लेकर बैठे रहना ही मन की गाँठ है। शिक्षक ने छात्रों से कहा एक धागे में पाँच मिनट में कौन सबसे ज्यादा गाँठ लगा सकता है, और इससे दुगने समय दस मिनट में लगी हुई गाँठ को जो अधिकतम …

Read More »
Powered By Indic IME
error: Content is protected !!