Breaking News
Home / Uncategorized / ( खबर का असर ) देवास जिले की जनपद पंचायत कन्नौद की ग्राम पंचायत पानीगांव का मामला, घटिया तरीके से हो रहा था रोड का निर्माण कार्य,छत्रपति की खबर देख मौके पर पहुंचे अधिकारी रोका गया निर्माण कार्य. पानीगांव पंचायत के इस रोड की क्वालिटी में है खराबी, (इंजीनियर तुलसीराम चौधरी ने कहा, ठेकेदार को दिया सुधार और जांच के निर्देश

( खबर का असर ) देवास जिले की जनपद पंचायत कन्नौद की ग्राम पंचायत पानीगांव का मामला, घटिया तरीके से हो रहा था रोड का निर्माण कार्य,छत्रपति की खबर देख मौके पर पहुंचे अधिकारी रोका गया निर्माण कार्य. पानीगांव पंचायत के इस रोड की क्वालिटी में है खराबी, (इंजीनियर तुलसीराम चौधरी ने कहा, ठेकेदार को दिया सुधार और जांच के निर्देश



सुन्देल, बिजवाड़, (दीपक शर्मा) देवास जिले की जनपद पंचायत कन्नौद की ग्राम पंचायत पानीगांव मे सीसी रोड बन रहा है जो भारी भ्रष्टाचार के चलते हुए बहुत ही कम मैटेरियल जिसमें सिमेंट तो नहीं के बराबर डालते हुए बन रहा था और यह रोड भ्रष्टाचार की पूरी पोल खोल रहा है इस रोड को लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश है ग्राम पंचायत पानीगांव में लाखों रुपए की लागत से सीसी रोड का जो काम चल रहा है वाह बहुत ही घटिया किस्मत से हो रहा था जिस मात्रा में इस रोड में मैटेरियल डालना चाहिए वहां पूर्ण रूप से नहीं डाला गया इस रोड मैं हो रहे भ्रष्टाचार को लेकर छत्रपति टाईम्स ने प्रमुखता से खबर चलाई जिसका खबर का असर यह रहा की दूसरे दिन ही वरिष्ठ अधिकारियों ने जांच के निर्देश दिए और चल रहे इस काम को रोका गया इस रोड की जांच करने आए इंजीनियर अधिकारी तुलसीराम चौधरी ने बताया कि इस रोड की क्वालिटी में खराबी है हमने इसके सुधार के निर्देश दिए हैं और जांच करने को भी ठेकेदार को बोल दिया है इसलिए आज काम भी बंद है जब हमारे प्रतिनिधि ने इंजीनियर तुलसीराम चौधरी से पूछा कि यह रोड का इतना काम होगा गया है तो आपने इस और ध्यान क्यों नहीं दिया वहीं चौधरी ने जवाब देते हुए कहा कि हम निर्वाचन मैं बिजी थे जैसे ही मौका मिला हमने आकर देखा जो भी रोड में खराबी थी कमी थी उसको सही करने के निर्देश दिए हैं सोचने वाला बड़ा प्रश्न यह है कि जो ठेकेदार ग्राम पानीगांव पंचायत मे इस रोड को बना रहा है वहीं इस रोड की कैसे जांच करेगा इससे यह बात तो स्पष्ट हो जाती है की पूरा मामला ही गोलमाल है इधर इस संबंध में जब जनपद सीईओ कन्नौद के अधिकारी प्रभांशु कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमने जैसे ही मीडिया की खबरों को पढ़ा संज्ञान में लेते हुए मैंने वहां पर आज ही जांच टीम गठित कर आज ही जांच करा ली जो भी कमियां पाई गई है। उसके बाद ही मैनै शक्ति से सुधारने के निर्देश दिए हैं और पुनावृत्ति ना करने की हिदायत दी गई है यदि पुनावृत्ति होती है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। शासन द्वारा लाखों रुपए रोड बनवाने के लिए स्वीकृत कर दिए जाते हैं जिससे लोगों को राहत मिले लेकिन धरातल पर ऐसा कुछ भी नहीं होता है और यहां पैसे भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता हैं या उदाहरण भी पानीगांव पंचायत में देखने को मिल रहा है।

About Rajesh Malviya

Reporter since last 25 years..

Check Also

ठाकुर अनारसिंह पीएचडी उपाधि से सम्मानित

टोकखुर्द (रोहित सिसोदिया)। चान्सलर मेम्बर ऑफ डॉक्टरल मॉनीटिरिंग बोर्ड द्वारा गुलमोहर कॉन्क्लेव इंडिया हैबीटेट सेन्टर …

One comment

  1. Person with the score of 700 that’s 600 before several years is really as economically viable.
    In truth, compensate charge cards give you people the opportunity
    to have an overabundance of off their spending. Though, what
    is sold with his advantage is really a responsibility to cover
    your lenders all borrow if you want to use a similar hekp line
    for refinances. https://www.trubeta.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered By Indic IME
error: Content is protected !!